Friday, October 18, 2013

पूरे चाँद की रात... !!!



चाँद पूरा है .... आज की रात......
साथ चांदनी की .. पुरनूर कहानियाँ...
इससे जुदा है .. मेरा वज़ूद..
जुड़ी है मेरी .. हर रुस्वाइयां...
हर जर्रा है ... रोशन..
बजती है हर ओर .. शहनाइयां...
फूलों.. पेड़ों.. गुंचों में..
बिखरी है .. प्यार की निशानियाँ....
कहीं वस्ल की ... बातें है...
तो कहीं लिपटी है .. तन्हाइयां..
चांदनी .. सिमटी है घाटियों में..
तो कहीं छाई है .... वीरानियाँ.....
छेड़ता...हैं चाँद...चांदनी साथ मिलके...
क्यूँ ये हवा..भी करे है... गुस्ताखियाँ...
याके .. मेरे ख्वाबगाह में.....
उतरी है .. रंगीन परछाइयां...
फ़िज़ाओं में रौनक़ है ... चाँद की..
चांदनी में हमारी ...  चाहत की गहराइयां...

...............................................................'तरुणा'...!!!

Chaand poora hai .... aaj ki raat...
Saath chaandni ki .. purnoor khahaniyaan...
Issey juda hai .. mera vajood ...
Judi hai meri ... har rusvaiynaan...
Har jarra hai ... roshan....
Bajti hai har aur ... shehnaaiyaan...
Phoolo .. pedon... gunchon me....
Bikhari hai ... pyaar ki kahaniyaan...
Kahin vasl ki .. baatey hain...
To kahin lipati hai ... tanhaaiyaan.....
Chaandni ... simati hai ghaatiyon me....
To kahin chhayi hain ... veeraniyaan ....
Chhedta hai Chaand...chaandni saath mike..
Kyun ye..hava bhi karey hai ...Gustaakhiyaan..
Yake ... mere khwaabgaah me ...
Utari hai ... rangeen parchaaiyaan ...
Fizaaon me raunaq hai ... chaand ki..
Chaandni me hamari .. Chaahat ki gehraaiyaan ..

..........................................................................'Taruna'.... !!!



6 comments:

अरुन शर्मा अनन्त said...

नमस्कार आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (20-10-2013) के चर्चामंच - 1404 पर लिंक की गई है कृपया पधारें. सूचनार्थ

taruna misra said...

Bahut Shukriya... Arun Sharma ji.. :)

pawan jain said...

याके .. मेरे ख्वाबगाह में.....
उतरी है .. रंगीन परछाइयां..pyar ka behad khoobsurat ahsas de rahi hai ye dil ko chhoo lene wali panktiyan

राजीव कुमार झा said...

बहुत सुन्दर .
नई पोस्ट : धन का देवता या रक्षक

आशा जोगळेकर said...

चांदनी में हमारे चाहत की गहराइयाँ।

वाह, बहुत सुंदर।

aprna tripathi said...

पूरे चाँद की रात.. बहुत सारी भावनाओं को समेटे है.. सुन्दर